नेवी में सब लेफ्टिनेंट बनने के बाद अपने पैतृक गांव पहुंची बेटी, स्वागत में गांव वालों का 5 KM लंबा जुलूस

हमारे देश में किसी समय लोग बेटियों को ज्यादा पढ़ाते लिखाते नहीं थे लेकिन अब धीरे-धीरे लोग जागृत हो रहे हैं और बेटियां भी बेटों…