सिनेमा जगत की सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली ‘मां’ निरुपमा रॉय की कहानी, 200 से ज्यादा फिल्मों में निभाई थी अहम भूमिका

सिनेमा जगत की सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली ‘मां’ निरुपमा रॉय की कहानी, 200 से ज्यादा फिल्मों में निभाई थी अहम भूमिका

निरुपा रॉय के निजी जीवन की बात करे तो, मात्र 15 वर्ष की आयु में इनकी शादी हो गई थी। निरूपा के फिल्मी जगत में एंट्री की कहानी भी काफी दिलचस्प है।

सिनेमा जगत की सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली 'मां' निरुपमा रॉय की कहानी, 200 से ज्यादा फिल्मों में निभाई थी अहम भूमिका
सिनेमा जगत की सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली ‘मां’ निरुपमा रॉय की कहानी, 200 से ज्यादा फिल्मों में निभाई थी अहम भूमिका

वैसे तो अब तक हजारों से ज्यादा एक्टर्स ने फिल्मों में मां का किरदार निभाया है। लेकिन निरूपा रॉय जैसी प्रसिद्धि किसी को हासिल न हो सकी। 1970-80 के दशक में निरूपा रॉय ने मां के किरदार में ऐसी चमक बिखेरी वो चमक अब तक फीकी न पड़ी। वो अकेली ऐसी एक्टर्स थी, जिन्होंने देव आनंद, धर्मेंद्र से लेकर अमिताभ बच्चन, शशि कपूर जैसे महान अभिनेताओं की मां का किरदार निभाया।

सिनेमा जगत की सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली 'मां' निरुपमा रॉय की कहानी, 200 से ज्यादा फिल्मों में निभाई थी अहम भूमिका
सिनेमा जगत की सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली ‘मां’ निरुपमा रॉय की कहानी, 200 से ज्यादा फिल्मों में निभाई थी अहम भूमिका

निरूपा रॉय ने अपने फिल्मी सफर के करियर में लगभग 250 फिल्मों काम किया। दीवार, अमर अकबर एंथोनी, गंगा जमुना सरस्वती, बेताब, बेजुबान, लाल बादशाह जैसी फिल्मों में मां का रोल निभाया था। निरूपा रॉय के इन फिल्मों में मां के किरदार दर्शकों ने काफी पसंद किया और निरूपा रॉय फेमस हो गईं।

सिनेमा जगत की सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली 'मां' निरुपमा रॉय की कहानी, 200 से ज्यादा फिल्मों में निभाई थी अहम भूमिका
सिनेमा जगत की सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली ‘मां’ निरुपमा रॉय की कहानी, 200 से ज्यादा फिल्मों में निभाई थी अहम भूमिका

वैसे तो इन फिल्मों में काम करने के अलावा निरूपा तकरीबन 15 फिल्मों में देवी के किरदार में भी देखी गई। देवी के किरदार में भी निरूपा को दर्शकों ने खूब पसंद किया। देवी के किरदार में निरूपा ने अपने अभिनय को बखूबी निभाया। जिसके बाद निरूपा को दर्शक देवी मानने लगे थे। इतना ही नही देवी का किरदार निभाने की वजह से लोग इनके घर आशीर्वाद लेने तो पहुंच जाते थे।
निरूपा रॉय की निजी जीवन के बारे में बात करे तो मात्र 15 साल की आयु में उनकी शादी करदी गई थी। निरूपा ने कभी नही सोचा था कि उनको फिल्मों में काम करने का मौका भी मिलेगा।

सिनेमा जगत की सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली 'मां' निरुपमा रॉय की कहानी, 200 से ज्यादा फिल्मों में निभाई थी अहम भूमिका
सिनेमा जगत की सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली ‘मां’ निरुपमा रॉय की कहानी, 200 से ज्यादा फिल्मों में निभाई थी अहम भूमिका

उनके फिल्मी सफर की शुरुआत भी बहुत दिलचस्प है। दरअसल, उन्होंने एक नाटक कंपनी के लिए एक अखबार में विज्ञापन देखा था। विज्ञापन देखकर निरूपा ऐसे ही बिना तैयारी किये ऑडिशन देने चली गई और इस ऑडिशन में वो चयनित हो गई। निरूपा रॉय के जीवन की आखिरी फ़िल्म लाल बादशाह थी, इस फ़िल्म में निरूपा रॉय ने अमिताभ बच्चन की मां का किरदार निभाया था, निरूपा का ये किरदार भी दर्शकों को खूब भाया था। निरूपा रॉय का निधन साल 2004 में 13 अक्टूबर को हो गया था।

About the Author: goanworld11

Indian blogger

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.