सफाई कर्मी का काम करने वाली एक महिला बन गई कीटविज्ञानी, MSC से 1st डिवीजन में हो चुकी है पास

कहते हैं व्यक्ति को कामयाबी की बुलंदियों को छूने के लिए कठिन मेहनत और परिश्रम से ही होकर गुजरना पड़ता है। बिना परिश्रम किए व्यक्ति एक कदम भी आगे नहीं चल सकता। लेकिन यदि आप के हौसले बुलंद हो और इरादा नेक हो तो कितनी भी बड़ी रुकावट आपको सफल होने से नहीं रोक सकती।

सफाई कर्मी का काम करने वाली एक महिला बन गई कीटविज्ञानी, MSC से 1st डिवीजन में हो चुकी है पास
सफाई कर्मी का काम करने वाली एक महिला बन गई कीटविज्ञानी, MSC से 1st डिवीजन में हो चुकी है पास

हैदराबाद की रहने वाली रजनी के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ है। रजनी काफी पढ़ी-लिखी महिला है बावजूद इसके वे हैदराबाद मुंसिपल कारपोरेशन में एक सफाई कर्मी का काम किया करती थी। परंतु अब उनकी किस्मत पूर्णता बदल चुकी है और अब वे एक बड़ी अफसर बन चुकी है।

रजनी का जन्म तेलंगाना के वारंगल जिले में हुआ था। रजनी एक बहुत ही सामान्य किसान परिवार से आती है। रजनी का बचपन काफी परेशानियों से होकर के गुजरा। परंतु रजनी को पढ़ने लिखने में काफी रूचि थी और वे पढ़ाई में काफी होशियार भी थी। रजनी ने ऑर्गेनिक केमिस्ट्री से एमएससी किया था और वह एमएससी में प्रथम श्रेणी से पांच भी हुई थी। एमएससी करने के बाद रजनी पीएचडी करना चाहती थी परंतु यह उनके नसीब में नहीं था। क्योंकि इसी दौरान रजनी के परिवार वालों ने उनकी शादी करा दी।

 

शादी के बाद रजनी अपने पति के साथ हैदराबाद रहने के लिए आ गई। रजनी की दो बेटियां हैं जो अभी पढ़ लिख रही है। रजनी के परिवार की आर्थिक स्थिति इतनी ठीक नहीं थी कि वे अपने बच्चों को पढ़ा सके और परिवार का गुजारा भी कर सके इसलिए रजनी ने भी पैसे थोड़ा कर अपने पति का हाथ बढ़ाने के बारे में सोचा।

सफाई कर्मी का काम करने वाली एक महिला बन गई कीटविज्ञानी, MSC से 1st डिवीजन में हो चुकी है पास
सफाई कर्मी का काम करने वाली एक महिला बन गई कीटविज्ञानी, MSC से 1st डिवीजन में हो चुकी है पास

रजनी इतनी पढ़ी-लिखी होने के बावजूद भी उन्हें तत्काल में नौकरी नहीं मिली तो मजबूरन व सफाई कर्मी का काम करने लगी। रजनी सफाई कर्मी का काम करते हुए बिल्कुल भी शर्म आती नहीं थी क्योंकि उनके लिए काम कोई भी हो वह महत्वपूर्ण ही था।

कुछ समय बाद तेलंगाना की म्युनिसिपल एडमिनिस्ट्रेशन एंड अर्बन डेवलपमेंट मिनिस्टर के टी रामा राव को रजनी के बारे में किसी ने जानकारी दी। के टी रामाराव को किसी ने बताया कि रजनी नाम की एक महिला काफी पढ़ी-लिखी होने के बावजूद भी वे सफाई करने का काम कर रही है। केटी रामा राव ने उनकी शिक्षा को महत्व दिया और उन्हें ग्रेटर हैदराबाद म्युनिसिपल कॉरपोरेशन में असिस्टेंट कीट विज्ञानी की नौकरी दिलवा दी।

इस नौकरी को पाकर रजनी काफी खुश हुई और अंततः उन्हें वह काम मिल गया जिसके लिए उन्होंने पढ़ाई की थी। मिनिस्टर केटी रामा राव के द्वारा किए गए इस कार्य के लिए उनकी भी लोगों के द्वारा काफी सराहना की जा रही है।

About the Author: Rani Patil

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.