शहीद की पत्नी बनी इंडियन आर्मी में अफसर, शादी के डेढ़ साल बाद ही देश के लिए शहीद हो गए थे पति

शहीद की पत्नी बनी इंडियन आर्मी में अफसर, शादी के डेढ़ साल बाद ही देश के लिए शहीद हो गए थे पति

शहीद पति का सपना पूरा करने के लिए बहादुर महिला नारी सिंह भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट के पद पर तैनात हो गई है।कुछ समय पहले लद्दाख घाटी में चीनी सेना के साथ हुई मुठभेड़ में लांस नायक दीपक सिंह वीरगति को प्राप्त हो गए थे। शहीद हुए दीपक सिंह को उनके जज्बे के लिए वीर चक्र से सम्मानित किया गया था। दीपक सिंह की गिनती सेना के बहादुर सैनिकों में होती थी। हाल ही मैं दीपक सिंह पत्नी रेखा सिंह का सेना में लेफ्टिनेंट के पद पर चयन हुआ है।

शहीद की पत्नी बनी इंडियन आर्मी में अफसर, शादी के डेढ़ साल बाद ही देश के लिए शहीद हो गए थे पति
शहीद की पत्नी बनी इंडियन आर्मी में अफसर, शादी के डेढ़ साल बाद ही देश के लिए शहीद हो गए थे पति

सेना में लेफ्टिनेंट के पद पर चयन होने के बाद रेखा सिंह ने बताया कि उन्होंने ये पद हासिल करके अपने पति का सपना साकार किया। रेखा सिंह की मेडिकल फॉर्मलटीज कुछ दिनों में पूरी हो जाएगी। इसके बाद रेखा सिंह चेन्नई स्थित ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी में उनकी ट्रेनिंग होगी। शादी के बाद 15 माह ही बीते थे, जब रेखा ने अपने पति को खो दिया था। जानकारी के लिए बता दे कि, साल 2020 में 15 जून को गलवान घाटी में भारतीय सेना की चीनी सेना के साथ झड़प हुई थी। इस टकराव में लांस नायक दीपक सिंह को अपनी जान गंवानी पड़ी थी।

शहीद की पत्नी बनी इंडियन आर्मी में अफसर, शादी के डेढ़ साल बाद ही देश के लिए शहीद हो गए थे पति
शहीद की पत्नी बनी इंडियन आर्मी में अफसर, शादी के डेढ़ साल बाद ही देश के लिए शहीद हो गए थे पति

अपनी पति को खो देने के बाद रेखा ने कभी हिम्मत नही हारी। उन्होंने बताया कि पति के चले जाने का गम और देशभक्ति का जज्बा ही था कि मैंने पति को खोने के बाद टीचर की नौकरी छोड़ी, और पति की राह पर चलते हुए सेना में अफसर बनने का ठान लिया। लेकिन ये सब इतना आसान नही था। इसके लिए मैंने बहुत मेहनत की और नोएडा जाकर सेना में भर्ती होने के लिए प्रवेश परीक्षा की तैयारी की और ट्रेनिंग के लिए बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ी। बावजूद इसके पहले प्रयास में असफलता ही हाथ लगी।

शहीद की पत्नी बनी इंडियन आर्मी में अफसर, शादी के डेढ़ साल बाद ही देश के लिए शहीद हो गए थे पति
शहीद की पत्नी बनी इंडियन आर्मी में अफसर, शादी के डेढ़ साल बाद ही देश के लिए शहीद हो गए थे पति

रेखा ने कहा , लेकिन मैंने हिम्मत नही हारी, पति का सपना का था कि मैं भी उनके साथ आर्मी जॉइन करूँ और दोनो देश के लिए सेवा करे, इस बात को हर दिन याद करते हुए मैं पूरी तैयारी करती रही इस बार मैंने और ज्यादा एफर्ट लगाया और मेहनत रंग लाई। और भारतीय सेना में मेरा लेफ्टिनेंट पद पर मेरा चयन हो गया। भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट के पद पर प्रशिक्षण 28 मई से शुरू होगा। जैसी ही मेरी ट्रेनिंग पूरी होगी मैं भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट बनकर सेवाएं प्रदान करूंगी।

About the Author: goanworld11

Indian blogger

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.