मां ने भीख मांग कर इक्कट्ठे किये 80000 रुपये के सिक्के,बेटा स्कूटी खरीदने के लिए सिक्को को बाल्टी में भरकर पहुंचा शोरूम

मां ने भीख मांग कर इक्कट्ठे किये 80000 रुपये के सिक्के,बेटा स्कूटी खरीदने के लिए सिक्को को बाल्टी में भरकर पहुंचा शोरूम

कहते है एक माँ ही ऐसी होती है जो अपनी औलाद के सपनो को पूरा करने के लिए मेहनत करती है और अपने बच्चों के सपनों को पूरा करने में आखिरी दम तक लड़ती है। एक ऐसा ही मामला आजकल सोशल मीडिया पर खूब चर्चा बटोर रहा है। ये मामला उस मां से जुड़ा है जिसने अपने बेटे के सपना पूरा करने के लिए भीख मांगी और भिखारन बनकर अपने बेटे के सपने को पूरा करने के लिए 80000 रुपये के सिक्के जोड़े। और अपने बेटे का सपना पूरा किया। पिछले कुछ दिनों में एक खबर केरल के सामने आई थी जिसमे एक शख्स बाइक खरीदने के लिए ढेर सारे सिक्के लेकर शोरूम पहुंचा था।

प्लास्टिक की बाल्टी में 80000 रुपये के सिक्के लेकर शोरूम पहुंचा सख्श

मां ने भीख मांग कर इक्कट्ठे किये 80000 रुपये के सिक्के,बेटा स्कूटी खरीदने के लिए सिक्को को बाल्टी में भरकर पहुंचा शोरूम
मां ने भीख मांग कर इक्कट्ठे किये 80000 रुपये के सिक्के,बेटा स्कूटी खरीदने के लिए सिक्को को बाल्टी में भरकर पहुंचा शोरूम

आजकल एक खबर सोशल मिडीया पर खूब चर्चा बटोर रही है जिसमे बताया जा रहा है कि एक माँ जिसने अपने बेटे के स्कूटी खरीदने के सपने को पूरा करने के लिये भीख माँगकर 80000 रुपये जोड़े ये 80000 रुपये सिक्को में जुड़े थे। इसके बाद उसका बेटा इन 80000 रुपये के सिक्कों को बाल्टी में भरकर शोरूम पहुंचा और बताया कि इन सिक्कों से वह स्कूटी खरीदने आया है, तो वहां के कर्मचारी इतने सारे सिक्के देखकर हैरान रह गए।

लेकिन, सरकार नियमानुसार इन सिक्कों को लेने से मना नही कर सकते थे इसलिए उन्होंने पहले इस शोरूम के मालिक से बात की। इसके बाद मालिक इन सिक्कों के बदले इस शख्स को स्कूटी देने के लिए राजी हो गए।

लेकिन ये प्रकिया इतनी आसान नही थी। शोरूम के मालिक राकेश पांडेय ने कर्मचारियों को इन सिक्कों को गिनने के लिये बोला। इसके बाद कर्मचारी जमीन पर बैठकर इन सिक्कों को गिनने में लग गए और इस प्रकिया में बहुत समय लग गया।

शोरूम मैनेजर ने कही दिल छू जाने वाली बात

मां ने भीख मांग कर इक्कट्ठे किये 80000 रुपये के सिक्के,बेटा स्कूटी खरीदने के लिए सिक्को को बाल्टी में भरकर पहुंचा शोरूम
मां ने भीख मांग कर इक्कट्ठे किये 80000 रुपये के सिक्के,बेटा स्कूटी खरीदने के लिए सिक्को को बाल्टी में भरकर पहुंचा शोरूम

शोरूम मैनेजर ने कहा इससे पहले भी वो 10-12 हजार रुपयों को सिक्को के रूप में ले चुके है हालांकि इस बार अनुभव थोड़ा अलग रहा। क्योंकि सिक्को के रूप में 80000 रुपये कम नही होते, और इनको गिनने में समय भी बहुत लगता है।

इसके बाद मैनेजर साहब ने कहा कि ‘एक मां ने जिस तरह तकलीफ सहकर अपने बेटे के लिए पैसे जमा किए, यह वाकई में तारीफ के काबिल है. आगे भी हमसे जो बन पाएगा हम उसके लिए करेंगे.’

About the Author: goanworld11

Indian blogger

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.