दो रुपए वाला ये सिक्का बना सकता है आपको लाखो का मालिक, जानिए ऐसा क्या खास है इस सिक्के में

दो रुपए वाला ये सिक्का बना सकता है आपको लाखो का मालिक, जानिए ऐसा क्या खास है इस सिक्के में

आज हम ऐसे 2 रुपये के सिक्के के बारे में बात करेंगे जो आपको मिनट सेकंडों में लखपति बना सकता है।जानकारी के लिए आपको बता दे कि कुछ सप्ताह पहले ही हैदराबाद में एक दो रुपये के सिक्के की नीलामी की गई थी। जब इस सिक्के की बोली लगी तो ये बोली 3 लाख रुपये पर आकर थमी।

दो रुपए वाला ये सिक्का बना सकता है आपको लाखो का मालिक, जानिए ऐसा क्या खास है इस सिक्के में
दो रुपए वाला ये सिक्का बना सकता है आपको लाखो का मालिक, जानिए ऐसा क्या खास है इस सिक्के में

जिसका ये सिक्का था वो कुछ ही देर में लाखों का मालिक बन गया।ये नीलामी हैदराबाद के आर्ट गैलरी के बाहर हुई थी।आप ये जरूर सोच रहे होंगे आखिर इस 2 रुपये के सिक्के में ऐसा क्या था जो ये इतना महंगा नीलाम हुआ दरअसल इस 2 रुपये के सिक्के कीखासियत ये थी कि ये पुराने जमाने का सिक्का है जिसपे एक स्पेशल चिन्ह बना हुआ है। जो सिक्का नीलाम हुआ वो सिक्के कई साल पहले सरकार ने बन्द कर दिए थे। आपको बताते चले कि हर एक सिक्के पर अलग अलग चिन्ह होते है जिन सिक्को पर विशेष प्रकार के चिन्ह होते है उन्ही सिक्को की कीमत लाखो रुपये में नीलामी में तय होती है।

दो रुपए वाला ये सिक्का बना सकता है आपको लाखो का मालिक, जानिए ऐसा क्या खास है इस सिक्के में
दो रुपए वाला ये सिक्का बना सकता है आपको लाखो का मालिक, जानिए ऐसा क्या खास है इस सिक्के में

सन 1980 की बात है इस जमाने मे मुम्बई के टकसालों के सिक्के बहुत ज्यादा प्रचलित होते थे। इन सिक्कों की खास बात ये होती थी कि इन सिक्कों पे एक विशेष प्रकार का हीरे का निशान हुआ करता था। ऐसे सिक्के पूरे भारत मे उस जमाने मे सबसे प्रचलित सिक्के होते थे।

जो व्यक्ति इन सिक्कों के बारे में जानकारी रखते है वो इन सिक्कों का अच्छा दाम ले लेते है।
ऐसे सिक्को को आज भी नीलामी होती है और सिक्के के मालिक को एक अच्छी रकम अदा करदी जाती हैं। लेकिन आज के समय मे जैसे जैसे समय गुजर रहा है वैसे वैसे ये सिक्के विलुप्त होते जा रहे एक कारण ये भी है कि ऐसे सिक्के रखने वाले मालिक को अच्छी रकम मिल जाती है

About the Author: goanworld11

Indian blogger

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.