चोरी करने कलेक्टर के घर में घुसे चोर, घर में केवल 4 हजार मिले, गुस्से में कलेक्टर को चोरों ने लिखी चिट्ठी

चो’री करने कलेक्टर के घर में घुसे चो’र, घर में केवल 4 ह’जार मिले, गुस्से में कलेक्टर को चो’रों ने लिखी चिट्ठी

हमारे देश में आए दिन कहीं ना कहीं चो’री की छुटपुट घटनाएं होती रहती है। हर बार चो’री करने वाले चो’र किसी भी घर में घुसकर चो’री का माल लूट कर फरार हो जाते हैं और अपने पीछे किसी भी प्रकार का सबूत छोड़ने से बचते हैं। परंतु हम आपको एक ऐसी चो’री के बारे में बताने जा रहे हैं यहां पर चो’री करने के बाद चोरों ने किसी कारण’वश चो’री जिसके घर में कि उस नाम के व्यक्ति के लिए एक चिट्ठी लिख कर छोड़ दी।

चोरी करने कलेक्टर के घर में घुसे चोर, घर में केवल 4 हजार मिले, गुस्से में कलेक्टर को चोरों ने लिखी चिट्ठी
चोरी करने कलेक्टर के घर में घुसे चोर, घर में केवल 4 हजार मिले, गुस्से में कलेक्टर को चोरों ने लिखी चिट्ठी

जी हां दोस्तों यह चो’री का मामला सुनने में काफी अजीबोग’रीब लग रहा होगा परंतु यह बिल्कुल सच है। यह घट’ना मध्यप्रदेश के देवास में घटित हुई है जिसके बाद चोरों को पुलिस के द्वारा धर दबोचा गया है।

जानकारी के मुताबिक बीते 8 अक्टूबर को मध्यप्रदेश के देवास में दो चोर कलेक्टर के घर में चो’री करने के लिए घुसे। दोनों भी चो’रों ने कलेक्टर के बंगले के बाहर नेम प्लेट देखी जिस पर डिप्टी कलेक्टर लिखा था परंतु दोनों भी चो’रों को लगा कि यह कलेक्टर का ही घर है और शायद इस घर से लाख दो लाख का माल मिल जाएगा परंतु वह गलती से डिप्टी कलेक्टर के घर में घुस गए।

चोरी करने कलेक्टर के घर में घुसे चोर, घर में केवल 4 हजार मिले, गुस्से में कलेक्टर को चोरों ने लिखी चिट्ठी
चोरी करने कलेक्टर के घर में घुसे चोर, घर में केवल 4 हजार मिले, गुस्से में कलेक्टर को चोरों ने लिखी चिट्ठी

बताया जा रहा है कि जैसे ही चो’र घर के अंदर घुसे और उन्होंने चो’री करने के लिए छानबीन की तो चोरों को काफी निराश होना पड़ा। दरअसल डिप्टी कलेक्टर के घर में चो’रों को केवल ₹’4000 ही मिले। जिसके बाद चो’र काफी नाराज हुए और उन्होंने कलेक्टर के नाम से चिट्ठी लिख दी।

चो’रों ने जैसे ही देखा कि घर में केवल ₹’4000 ही है तो चोर बहुत गुस्सा हुए। क्योंकि वह कलेक्टर के घर में चो’री कर रहे थे इसलिए उन्हें केवल ₹’4000 ही मिलने की अपेक्षा नहीं थी। चो’रों ने वहीं से एक कागज और पेन लिया और उस पर लिख दिया कि “जब घर में पै’से ही नहीं रखते तो फिर ताला क्यों लगाते हो कलेक्टर”।

चोरी करने कलेक्टर के घर में घुसे चोर, घर में केवल 4 हजार मिले, गुस्से में कलेक्टर को चोरों ने लिखी चिट्ठी
चोरी करने कलेक्टर के घर में घुसे चोर, घर में केवल 4 हजार मिले, गुस्से में कलेक्टर को चोरों ने लिखी चिट्ठी

ऐसी चिट्ठी लिखकर दोनों चो’र ₹’4000 लेकर फरार हो गए। जिसके बाद देवास पुलिस के द्वारा बीते मंगलवार को दोनों भी आरोपियों को पकड़ लिया गया है। आरोपियों से पूछताछ किए जाने पर उन्होंने इस बात का खुलासा किया था कि उन्हें घर में इतने कम पै’से मिलने की वजह से वह गुस्सा हुए और उन्होंने गुस्से में वह चिट्ठी लिखी।

पकड़े जाने के बाद चो’रों का नाम कुंदन और शुभम पता चला है। दोनों भी चोर बिहारीगंज के रहने वाले हैं। यह दोनों भी चो’र पहले से ही काफी अपराधों में शामिल बताए जा रहे हैं। इसमें से कुंदन नाम के चो’र के ऊपर पहले से ही 6 मामले चल रहे हैं और शुभम नाम के अपराधी पर पहले से ही 5 अपराध के मुकदमे चल रहे हैं। दोनों ने एक और बात का खुलासा किया कि उनकी गैं’ग में प्रकाश नाम का एक और चोर शामिल था और उसी ने कलेक्टर के नाम से वह चिट्ठी लिखी थी। प्रकाश के ऊपर भी पहले से ही कई मामले द’र्ज है। बताया जा रहा है कि वे चो’र कलेक्टर के घर में घुसना चाहते थे परंतु गलती से भी डिप्टी कलेक्टर त्रिलोचन गॉड के घर में घुस गए।

डिप्टी कलेक्टर त्रिलोचन गॉड वर्तमान में खातेगांव में एसडीएम के पद पर तैनात है। उनका घर शहर के सिविल लाइन में स्थित है इसीलिए बीते 15 दिनों से वह घर सुनसान पड़ा था यही बात का फायदा उठाकर चो’रों ने उस घर में हल्ला बोल दिया।

About the Author: Rani Patil

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.