अजब प्यार की गजब कहानी, 52 साल के सिपाही को हुआ 25 साल की महिला कैदी से प्यार जानिए पूरा मामला

अजब प्यार की गजब कहानी, 52 साल के सिपाही को हुआ 25 साल की महिला कैदी से प्यार जानिए पूरा मामला

कहते है प्यार की कोई उम्र नही होती। प्यार स्वतंत्र है इसकी कोई सीमा नही होती। प्यार कभी भी किसी से भी हो सकता है। आज हम आपको एक ऐसे ही मामले से अवगत कराने जा रहे है जहाँ एक सिपाही को कैदी महिला से प्यार हो जाता है। जानिए पूरा मामला क्या है.

अजब प्यार की गजब कहानी, 52 साल के सिपाही को हुआ 25 साल की महिला कैदी से प्यार जानिए पूरा मामला
अजब प्यार की गजब कहानी, 52 साल के सिपाही को हुआ 25 साल की महिला कैदी से प्यार जानिए पूरा मामला

ये अजीबोगरीब मामला कटिहार का है । ये महिला एक अपहरण के मामले में कटिहार मंडल कारा में बंद थी। वही पुलिसकर्मी मोहम्मद इनामुल हौदा की तैनाती थी। महिला का नाम सरीफुल खातून है। कैदी महिला कई दिन से यहां कैद थी ईस बीच काफी दिनों तक यहाँ आपस मे बातचीत होने के बाद पुलिसकर्मी को प्यार हो जाता है। और महिला भी उसे बहुत चाहती थी।

उम्रदराज है पुलिसकर्मी

अजब प्यार की गजब कहानी, 52 साल के सिपाही को हुआ 25 साल की महिला कैदी से प्यार जानिए पूरा मामला
अजब प्यार की गजब कहानी, 52 साल के सिपाही को हुआ 25 साल की महिला कैदी से प्यार जानिए पूरा मामला

लेकिन कहानी में दिलचस्प बात यह है कि उम्रदराज कटिहार पुलिस विभाग के ये प्रेमी पुलिस वाले मोहम्मद इनामुल हौदा पहले से शादी-शुदा हैं, लेकिन इस्लाम धर्म के अनुसार जेल से छूटी सरीफुल खातून से उन्होंने दूसरी शादी रचा ली है। उन्होंने कहा है कि हम दोनों को इस शादी से कोई ऐतराज नही है।

डेढ़ साल से अपहरण के जुर्म में कैद है महिला

सरीफुल खातून अपहरण के एक मामले में कटिहार मंडल कारा में पिछले 1.5 साल से बंद थी। फिलहाल खातून बैल पर जेल से बाहर हैं। वहीँ लगभग डेढ़ साल से कटिहार मंडल कारा में तैनात इनामुल अपनी दूसरे शादी को भी हर हाल में जायज ठहराते हुए कह रहे हैं कि उन्होंने अपनी पहली पत्नी की इजाजत और दोनों परिवार की रजामंदी से सरीफुल से निकाह रचाया है। सरीफुल का कहना है कि उनकी पहली पत्नी को मेरे दूसरी शादी से कोई ऐतराज नही है।

मियां बीवी राजी तो क्या करेगा काजी

अजब प्यार की गजब कहानी, 52 साल के सिपाही को हुआ 25 साल की महिला कैदी से प्यार जानिए पूरा मामला
अजब प्यार की गजब कहानी, 52 साल के सिपाही को हुआ 25 साल की महिला कैदी से प्यार जानिए पूरा मामला

दोनों ने 14 फरवरी ‘वेलेनटाईन-डे’ के दिन ये प्रेम का संदेश और एक-दूसरे को प्रेम का प्रतीक ‘गुलाब’ देते हुए कहा कि हर किसी को अपने प्यार पर यकीन करना चाहिए। प्यार किसी जाति मजहब, उम्र का मोहताज नहीं होता, वहीं सरीफुल कहती है कि इनामुल जैसा शौहर हर बीबी को मिलना चाहिए। सरीफुल ने कहा है कि एक साथ दोनो पत्नियों को प्यार देने वाले शौहर इस दुनियां में बहुत कम मिलते है।

About the Author: goanworld11

Indian blogger

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published.